What is Web Hosting? वेब होस्टिंग क्या है और इसके प्रकार

आपने कई website इंटरनेट पर देखी होंगी उन website को बनाने की लिए Web hosting की जरुरत पड़ती है। आगे आप tutorialinHindi में जानेंगे वेबहोस्टिंग क्या होती है? What is Web Hosting?
यह कितने प्रकार की होती है – Types of Web Hosting,
वेब होस्टिंग की क्या-क्या विशेषताएँ है – Features of Web hosting

आप इंटरनेट के जरिये जो जानकारी प्राप्त करते है। वह जानकारी आपको website और web page पर दिखाई जाती है।

लेकिन क्या अपने सोचा है की यह जानकारी आप तक कैसे पहुँच रही है? उसका जवाब है की,
यह सब जानकारी Server पर file के रूप में उपलब्ध होती है और भी अच्छे से समझने के लिए आपको यह जानना जरुरी है की वेब होस्टिंग क्या होती है? What is web hosting?

वेब होस्टिंग क्या होती है – What is web hosting?

कोई भी blogger और web developer अपनी web file और media जैसे की content, image, video आदि की जानकारी को server पर सुरक्षित रखने के लिए web hosting service का उपयोग करता है।

यह होस्टिंग आपको web hosting service provider द्वारा प्रदान की जाती है।

इसको एक उदाहरण से समझते है,

“अगर आप नौकरी करने लिए किसी शहर में जा रहे है, तो आपको रहने लिए एक सुरक्षित जगह की आवश्यकता होती है। उसके लिए आपको उस शहर में एक घर किराये से लेना होगा। जिसमें आप अपना सामान सुरक्षित रखें और सुरक्षित रह भी सकें।”

उसी प्रकार एक web developer और blogger को अपनी web file और media को सुरक्षित रखने और उस जानकारी को इंटरनेट के द्वारा आप तक पहुचने के लिए web hosting की जरुरत होती है।

Web hosting आपको अपने special computer यानि की server पर space प्रदान करता है और एक web address भी प्रदान करता है।

उस web address को domain name कहा जाता है। जिसके बारे में आगे आप जानेंगे की डोमेन नाम क्या होता है? – What is domain name?

इस domain name को browser के address bar पर टाइप करके यूजर आपकी वेबसाइट पर पहुँचते है।

Web hosting के लिए एक शक्तिशाली server की आवश्यकता पड़ती है, जोकि 24 घंटे चालू रहे और यूजर कभी भी इंटरनेट की मदद से उस site को खोल सके।

इस प्रकार के server को maintain करने लिए technical team और maintenance cost की जरुरत होती है।

इसलिए web hosting companies हमसे web hosting का किराया लेती है। ताकि वह हमें अच्छी सुविधा प्रदान कर सकें।

यह hosting खरीदने के लिए हम उन्हें हर महीने या साल के पैसे देते है। जिससे वह अपने सर्वर पर हमको space दे सकें। आगे आप यह जानेंगे की इसके कितने प्रकार होते है -Types of web hosting

वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है – Types of web hosting services

  1. Shared Hosting
  2. VPS hosting
  3. Dedicated hosting
  4. Cloud hosting

Shared Hosting – What is Shared Hosting?

Shared hosting का उपयोग ज्यादातर छोटी कंपनियों ki website और ब्लॉग में किया जाता है। यह एक आम प्रकार की होस्टिंग है।
इसमें कई website एक ही server पर host होती है और वह server अपनी RAM, CPU, Storage और भी अन्य resources को सभी Website में शेयर करता है।

What is web hosting

यह होस्टिंग user-friendly है मतलब की इसका उपयोग करने के लिए अधिक coding knowledge की आवश्यकता नहीं है।

इसमें पूरी जिम्मेदारी होस्ट की होती है की server को कैसे maintain करना है।

इसकी सबसे खास बात यह की यह होस्टिंग सस्ती होती है क्योंकि हर कोई एक ही server के लिए सामान रूप से pay करता है।

लेकिन इससे कुछ नुकसान भी है जैसे की कई websites एक ही server के संसाधनों का उपयोग करती है।

जिससे की कई बार अधिक load होने के कारण इसकी गति धीमी हो जाती है क्योंकि shared hosting पर एक ही समय में कई प्रोग्राम चलते है।

VPS hosting – What is VPS hosting?

VPS hosting का पूरा नाम Virtual private server hosting है, यह होस्टिंग shared hosting की तुलना ज्यादा विश्वसनीय और स्थिर है।

इसमें भी अन्य user के साथ Server शेयर किया जाता है। लेकिन इस server का Web host सभी को एक separate partition देता है।

जिसे virtual server कहा जाता है। जिससे आपके पास खुद का server स्थान, कंप्यूटर पावर और मेमोरी रिज़र्व होती है।

VPS hosting - What is web hosting

जिन website पर ज्यादा traffic आने की संभावना होती है उनके लिए यह ज्यादा उपयोग होती है और अन्य website पर traffic बढ़ने से आपकी website की performance में कोई प्रभाव नहीं पढ़ता।

Dedicated hosting – What is Dedicated hosting?

Dedicated hosting में website के मालिक का server पर पूरा control रहता है।
इसमें website के owner को खुद के तरीके से manage करने की flexibility प्रदान की जाती है।

वह अपने अनुसार पूरी hosting के वातावरण को set कर सकते है। क्योंकि इसके सभी संसाधन (जैसे की ऑपरेटिंग सिस्टम, हार्डवेयर कंपोनेंट्स और मेमोरी आदि ) website owner के control में रहते है।

Web hosting services

इस कारण यह तेजी से कार्य करने के साथ उच्च सुरक्षा प्रदान करता है।

इसकी कीमत ज्यादा होती है, क्योंकि इसका जो मालिक होता है मतलब की website owner वह इसके पुरे संचालन का भुगतान करता है।

ज्यादातर इसका उपयोग बड़े online business और heavy traffic के लिए किया जाता है।

Cloud hosting – What is Cloud hosting?

Cloud hosting बहुत popular hosting है। यह आज के समय में सबसे ज्यादा उपयोग की जाने वाली hosting है।

यह hosting VPS hosting के सामान होती। इसमें भी virtual machine का उपयोग किया जाता है।

क्लाउड होस्टिंग में आपका होस्ट server का set प्रदान करता है। जिसमे कई files और resources को दोहराया जाता है।

यदि cloud servers में कोई एक server व्यस्त हो या server में कोई समस्या है, तो आपकी website का traffic automatically किसी दूसरे server पर चला जाएगा।

cloud hosting - Web hosting company

यह आपकी आवश्यकताओं के आधार पर संसाधनों को प्रदान करते है। इसलिए आपको इसमें उतने ही संसाधनों का भुकतान करना पड़ता है। जितना आप उपयोग करते है न की पुरे संसाधनों के लिए।

इसे आप Dedicated hosting की तरह maintain तो नहीं कर सकते।

लेकिन आप इसकी मेमोरी और संसाधनों को कम ज्यादा कर सकते है और यह होस्टिंग दूसरे होस्टिंग के मुकबले सबसे ज्यादा सुरक्षित होती है।

WordPress hosting – What is WordPress hosting?

WordPress hosting को wordpress पर site बनाने वाले लोगो के लिए बनाया गया है।

इसमें site का निर्माण करना बहुत आसान है। इसके लिए किसी coding का ज्ञान होने की जरुरत नहीं है।

यह एक प्रकार से shared hosting की तरह है। इसमें सर्वर विशेष रूप से configure किया जाता है।
जिससे site बहुत तेजी से load होती है और कम समस्या के साथ चलती है।

WordPress की सबसे खास विशेषता यह है की इसमें पहले से बनी themes, drag-and-drop page builder, और specific developer tools होते है।

वेब होस्टिंग की विशेषताएँ – Features of Web Hosting

होस्टिंग लेते समय आपको इसकी विशेषताओं का ध्यान रखना चाहिए, तो आइए जानते है Web hosting की क्या-क्या विशेषताएँ होती है।

What is Web Hosting? वेब होस्टिंग क्या है और इसके प्रकार 2
  • Bandwidth
    इसके द्वारा हम यह पता कर सकते हैं कि आपकी website और website पर आने वाले visitor के बीच transfer होने वाला डाटा की bandwidth कितनी है।
    जितनी अधिक bandwidth होगी उतने अधिक लोग आपकी website को बिना किसी रुकावट के एक साथ access कर सकेंगे।
  • Email accounts
    आप domain name के साथ के साथ email की सुविधा भी ले सकते है। जोकि आपके domain name से मिलती हो, जैसे की “www.tutorialinhindi.in” domain name है और इसकी email id “[email protected]” है।
    इस email id की मदद से आप email send और receive कर सकते है और भी कई सुविधा प्राप्त कर सकते है,
    जैसे की unlimited storage, calendar, alerts, import/export address book, viruses और spam filter आदि।
  • Uptime
    यदि आपकी वेबसाइट पर Uptime की guarantee है, तो इसका मतलब की आपकी website इंटरनेट पर 24/7 मौजूद रहे।
    जिससे आपके visitor कभी भी आपकी site पर visit कर सकें। एक अच्छे और विश्वसनीय web hosting provider 99.9 प्रतिशत uptime की गारंटी उपलब्ध करते है।
  • Database
    Server पर space को किराय पर लिया जाता है। जिसमें आप अपने visitor के उपयोग में आने वाली सामग्री रखते है जैसे की html files, graphics, images, और videos आदि।
    आप अपना प्लान चुनते वक्त अपने डाटा अनुसार disk space ले सकते है।
  • Customer support
    किसी भी web hosting service की यह सबसे महत्वपूर्ण सुविधा है। अगर आपकी site पर किसी भी प्रकार की तकनीकी परेशानी आती है,
    तो उन्हें call, live chat या email करके अपनी परेशानी के बारे में जान सकते है।
  • Backup
    जिस प्रकार हम अपने कंप्यूटर में stored data का backup लेते है। उसी प्रकार server में stored data का backup लेना जरुरी है।
    क्योंकि server भी एक प्रकार का कंप्यूटर है किसी खराबी के कारण अगर server खराब हो जाए तो आपका data खो सकता है।
    इसलिए आपको अपने web hosting provider से backup की सुविधा जरूर लेनी चाइए।
  • FTP access
    इसकी सहयता से आप server में स्टोर डाटा को अपने local computer पर Download कर सकते है।
    अपनी वेबसाइट की html / php / asp files, graphics, images, और videos आदि को आप FTP के माध्यम से अपने local computer से web server पर transfer कर सकते है।

What is domain name?

अगर आप अपना online business start करना चाहते है या अपनी कंपनी को इंटरनेट पर दिखना चाहते है, तो आपको domain name की आवश्यकता होती है। यह एक web address या URL होता है।

इसे एक उदाहरण से समझते है
“यदि आपकी कोई दुकान है, तो किसी को भी आपकी दुकान पर आने लिए आपकी दुकान के address की जरुरत होती है।”

उसी प्रकार online business में आपकी site को internet पर दिखने के लिए address की जरुरत होती है जिसे टाइप करते ही site पर पहुंचा जा सकता है।

इंटरनेट में प्रत्येक कंप्यूटर का अपना IP address होता है जोकि numbers में होता है और इसे याद करना मुश्किल होता है।
इसलिए DNS (Domain Name Service) उस IP address को URL में बदल देता है।

फिर इस URL को याद करना हमारे लिए आसान हो जाता है। जोकि unique होता है और यह URL आपकी website के काम को दर्शाता है। जैसे की www.tutorialinhindi.in यह हमारा URL है।

DNS - What is domain name

What is Microsoft Word in Hindi

How To Create A Web Hosting Business – WHMCS Tutorial

Leave a Comment