What is Computer Virus in Hindi – वायरस से कैसे बचे

Computer Virus से हमारे कंप्यूटर को सुरक्षित रखना आवश्यक हो गया है, tutorial in Hindi में आप जानेंगे What is computer virus in Hindi,

क्योंकि कंप्यूटर हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनता जा रहा है, जैसे कि आप जानते हैं,
कंप्यूटर के बिना सभी कार्य करना हमारे लिए मुश्किल होता जा रहा है।

कंप्यूटर में सभी प्रकार की जानकारी रखी जाती है चाहे वो हमारे account की information हो या फिर
हमारी personal information हो और इस प्रकार की सभी जानकारियों को सुरक्षित रखने के लिए।

What is Computer Virus – कंप्यूटर वायरस क्या है?

Computer Virus एक प्रकार का अनचाहा कंप्यूटर प्रोग्राम या कोड होता है, जो एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में फैलने के लिए बनाया गया है।

यह बिना बुलाये मेहमान की तरह आपके कंप्यूटर प्रवेश करता है, जोकि कंप्यूटर के कार्य में बार-बार बाधा उत्पन करता है।

एक वायरस में इतनी क्षमता होती है की यह धीरे-धीरे पुरे कंप्यूटर में फैल कर कंप्यूटर की डाटा फाइल्स, हार्ड ड्राइव के बूट सेक्टर और सिस्टम सॉफ्टवेयर को प्रभावित करता है।

Definition of computer virus के बाद आपके लिए यह जानना बेहत जरुरी है की पहला कंप्यूटर वायरस किसने बनाया और इसका निर्माण कैसे हुआ।

Full form of Computer Virus

Virus – Vital Information Resources Under Seize
यह वायरस मानव द्वारा बनाया गया प्रोग्राम कोड होता है,
जो आमतौर पर host कंप्यूटर द्वारा यूजर के कंप्यूटर में प्रवेश करते है।

What is Computer Virus के साथ-साथ आपको कंप्यूटर वायरस से जुड़े कुछ प्रश्नों के उत्तर मिलेंगे

जैसे की-
कंप्यूटर वायरस क्या है?
यह कैसे फैलते हैं?
इसके के लक्षण
क्या है?
वायरस से बचाव कैसे करें
?
यदि आप इस जानकारी को अच्छी तरह से पढ़ते और समझते है।
तो हम कंप्यूटर में होने वाले वायरस अटैक से अपने कंप्यूटर को सुरक्षित कर सकते है।

History of Computer Virus – कंप्यूटर वायरस का इतिहास

एक नजर Computer Virus के इतिहास पर भी डालते है की पहला वायरस किसने बनाया और कैसे कंप्यूटर को वायरस से संक्रमित किया।

सन् 1982 में रिचर्ड स्केरेंटा 15 साल की उम्र में पहले कंप्यूटर वायरस का निर्माण किया।
जिसका नाम Elk Cloner रखा था। यह वायरस प्रयोगशाला के बहार फैला था।

रिचर्ड स्केरेंटा ने इस अपने दोस्तों के लिए मजाक के रूप में बनाया था।
जोकि floppy diskette द्वारा अन्य कंप्यूटर में फैलाया गया था।

Example of Computer Virus – कंप्यूटर वायरस के उदहारण

Causes of Computer Virus – कंप्यूटर वायरस के कारण

कंप्यूटर नेटवर्क द्वारा दुनिया में सभी कम्प्यूटर्स आपस में एक दूसरे से जुड़े हुए है। डाटा फाइल्स और संसाधनों का लेन देन आम बात है।

यह ईमेल, अटैच टेक्स्ट मैसेज, इंटरनेट द्वारा डाउनलोड फाइल्स, सोशल मीडिया द्वारा स्कैम लिंक और यंह तक की आपके स्मार्टफोन द्वारा अटैक कर सकता है और फैल भी सकता है।

कंप्यूटर वायरस सोशल शेयरिंग वाली सामग्री जैसे की ग्रीटिंग कार्ड, अजीब प्रकार के चित्र,
ऑडियो फाइल और वीडियो फाइल में भी छुपे रहते है

कंप्यूटर को वायरस से सुरक्षित रखने के लिए जहां तक हो सके फाइल्स को डाउनलोड न करें,
जरुरी ईमेल अटैच फाइल को ही डाउनलोड करें जिनकी आपको आवश्यकता हो और फर्ज़ी वेबसाइट की फाइल्स को डाउनलोड न करें।

10 Signs of Virus – कंप्यूटर वायरस के लक्षण

कंप्यूटर में वायरस से हर साल अरबों डॉलर का नुकसान होता है वायरस प्रवेश से आपको कई प्रकार की समस्या का सामना करना पढ़ सकता। कंप्यूटर में वायरस होने के लक्षण इस प्रकार है –

  • अचानक से आप देखेंगे की कंप्यूटर की गति धीमी हो जाती है इसका मतलब की आपको यह संकेत मिल रहा की कंप्यूटर में वायरस है।
  • कंप्यूटर पर कोई भी कार्य करते समय अचानक सिस्टम क्रैश हो सकता है। क्रैश होने पर नीली स्क्रीन दिखाई देती है।
  • डाटा फाइल्स का corrupt हो जाना।
  • अचानक से प्रोग्राम या फाइल्स का गुम हो जाना और काम नहीं करना।
  • जब आप कंप्यूटर start या on करते है तो आपकी स्क्रीन पर अनावश्यक एप्लीकेशन दिखाई देती है।
  • स्क्रीन पर अजीब प्रकार के message बार-बार दिखना।
  • यह आपको अपने कंप्यूटर को login करने से रोक सकता है या पासवर्ड बदल सकता है
  • इससे आपकी हार्ड ड्राइव बहुत नुकसान हो सकता है। यह हार्ड ड्राइव का नाम और volume बदल सकता है और delete भी कर सकता है
  • आपकी कंप्यूटर की जानकारी चुरा कर किसी अन्य व्यक्ति को भेज सकता है, और वह व्यक्ति उसका गलत उपयोग कर सकता है।
  • डेस्कटॉप पर विभिन्न रंगो का अनुभव करना।

What is computer virus in Hindi में आगे आप जानेंगे की वायरस से अपने कंप्यूटर का बचाव कैसे करे।

How to protect computer systems from viruses – कंप्यूटर वायरस से कंप्यूटर सिस्टम का बचाव कैसे करें?

  • कंप्यूटर को वायरस से बचाने के लिए विश्वसनीय antivirus सॉफ्टवेयर का उपयोग करें और उसे बार बार update करते रहे।
  • कंप्यूटर के डाटा का backup लेते रहे। अनावश्यक विज्ञापन पर क्लिक नहीं करें।
  • हमेशा उन फाइल्स को स्कैन करें जिनको आप दूसरे कंप्यूटर से प्राप्त करते है, शेयर करते है और डाउनलोड करते है।
What is Computer Virus?
Computer Virus in Hindi

आपने जाना-

Computer Virus in Hindi में दी गई जानकारी में आपने जाना की what is computer virus? Full form of Computer Virus, History of Computer Virus, types of computer virus, कंप्यूटर वायरस के लक्षण, कंप्यूटर वायरस के कारण और उसके उदाहरण और सबसे जरुरी बात की वायरस से हम आपने कंप्यूटर को कैसे सुरक्षित करे।

यदि आपके मन में इससे जुड़े सवाल हो तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट जरूर करें,
ताकि हम आपके सवालो का जवाब दे सके और इसे अपने दोस्तों में शेयर भी करें।

Download Keyboard Shortcut pdf

इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करने के लिए यह पर क्लिक करें।

Leave a Comment