4 Fundamentals of Python in Hindi

Fundamentals of python in hindi

किसी भी प्रोग्रामिंग भाषा को सीखने के लिए उस भाषा के सही सिन्टेक्स (Syntax) का ज्ञान होना अत्यन्त आवश्यक है। यदि आप कोई भी प्रोग्रामिंग भाषा सीख रहे हैं तो सबसे पहले आपको उसके फन्डामेंटल्स यानी बुनियादी नियमों को सीखना चाहिए।
यदि आप पाइथन भाषा सीख रहे है और उसके बेसिक नियमों को सीखना चाहते है तो यह लेख “Fundamentals of Python in Hindi” आप ही के लिए हैं।
इसमें हम पाइथन के फन्डामेंटल्स पर चर्चा करेंगे। उम्मीद है लेख के अन्त तक आपको पाइथन के बेसिक नियमों की अच्छी जानकारी हो जाएगी। अगर आप पाइथन भाषा का परिचय जानना चाहते हैं तो इसे पढें –
What is python in Hindi- पाइथन क्या है? पाइथन कैसे सीखें?

4 Fundamentals of Python in Hindi

पाइथन के बेसिक नियमों यानी Fundamentals को चार भागों में विभाजित किया जाता है। वे चार प्रकार हैं-

1. Data Types

2. Compound data structures 

3. Conditional statements, loops and functions.

 4. Object Oriented Programming

Python As an Object Oriented Programming Language

पाइथन के FUNDAMENTALS को सीखने से लिए पहले हमें पाइथन के भाषा प्रकार के बारे में जानना होगा। पाइथन एक आब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। आब्जेक्ट ओरिएंटेड होने का सरल भाषा में अर्थ यह है कि पाइथन भाषा में हर इकाई को एक आब्जेक्ट मान कर उसपर काम किया जाता है। किसी भी आब्जेक्ट ओरिएंटेड भाषा में अलग-अलग क्लासेज विभाजित होती हैं। एक विशेष प्रकार के गुण रखने वाली वस्तुओं के  समूह को “क्लास” कहते हैं।

प्रोग्रामिंग में एक प्रकार से औपरेट होने वाले शब्दों एवं अंकों के समूह को डाटा कहते है । पाइथन में कुल पांच प्रकार के डाटा होते हैं जिन्हें डाटा टाइप्स् कहते हैं। आब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में डाटा टाइप्स् ही क्लासेज होती हैं। ये डाटा टाइप्स् कोड लिखते समय वेरिएबलस् में स्टोर कराए जाते हैं। ये वेरिएबलस् ही आब्जेक्ट कहलाते हैं। डाटा टाइप प्रोग्राम execute करने वाले compiler को यह बताता है कि प्रोग्रामर वेरिएबल की वैल्यू को किस तरह से उपयोग करना चाहता है। 

हर भाषा के अपने कुछ प्रारंभिक रूल्स होते है जिनके आधार पर वह भाषा लिखी और बोली जाती है। हर प्रोग्रामिंग भाषा को लिखे जाने के भी अपने कुछ नियम होते हैं जिन्हें सिन्टेक्स कहा जाता है।
किसी भी भाषा में प्रोग्राम लिखने के लिए आपको उस भाषा के सही सिन्टेक्स क ज्ञान होना बहुत आवश्यक है। compiler केवल सही format में लिखे (सिन्टेक्स के अनुसार लिखे) कोड्स को ही execute करता है। 

Fundamentals of Python को समझने की शुरूआत हम इसके डाटा टाइप्स् कोड समझकर करेंगे।

Data Types in Python (Fundamentals of Python)

पाइथन भाषा में कुल पांच प्रकार के डाटा होते हैं – 

  1. Integer 
  2. Float
  3. Boolean
  4. String
  5. Complex

Integer

पाइथन भाषा में integers सभी गणितीय अंकों का समूह होता है। प्रोग्रामिंग में integer डाटा टाइप को “int” से denote किया जाता है। कोड लिखते समय इन्हें single, double  या triple quotes के अंदर लिखने कि आवश्यकता नहीं होती है।
1, 3 , 50, -7, 0 आदि सभी Integer डाटा टाइप के उदाहरण हैं।

Float

पाइथन में ऐसे गणितीय अंक का समूह जिनमें दशमलव लगा होता है उन्हें “float” कहते हैं। इनका उपयोग भी प्रोग्रामिंग में integers की तरह ही किया जाता हैं।
इन्हें भी single, double  या triple quotes के अंदर लिखने कि आवश्यकता नहीं होती है। 11.3, 2.00, 3.14, 7.77777777, 8.34 आदि float डाटा टाइप के उदाहरण हैं। 

Boolean

Boolean डाटा टाइप में केवल दो तरह की वैल्यूज़ “True” एवं “False” ही possible होती हैं। ये ”Boolean values” भी कहलाती हैं। प्रोग्रामिंग में   Boolean values को “bool” के द्वारा represent किया जाता हैं। यह डाटा टाइप किसी वाक्य या स्थिति के सही या गलत होने की संभावना को दर्शाता है।

String

Alphabets या characters के क्रमों के समूह को पाइथन प्रोग्रामिंग में “String” कहा जाता हैं। प्रोग्राम में इन्हें “str” से denote किया जाता हैं। इनको वैल्यूज़ के रूप में उपयोग करने के लिए इन्हें single, double या triple quotes के अंदर लिखना आवश्यक होता है।
“Name”, ‘Aanht’, ’”Hh'”, ‘Ghost’ आदि String डाटा टाइप के उदाहरण हैं।

Specifications of String

Concatenation Operation – Strings को String के साथ और String को Numbers के साथ ‘+’ operator के उपयोग करके concatenate कराया यानी जोड़ा जा सकता हैं। 

Example- 

“Your" + “name" (यदि हम यह इनपुट कराते हैं तो)

Output = “Your name” (हमारा आउटपुट यह होगा)

“Name" + 123 

Output = “Name123″

 ‘3’ + ‘5’

Output = ‘35′

Replication Operation – Replication Operation का अर्थ numbers के लिए multiplication होता है। String डाटा टाइप में जब strings का किसी number के साथ “*” आपरेटर का उपयोग करके multiplication किया जाता है तो वह string value उस number के अनुसार उतने बार replicate यानी repeat हो जाती है।

Example:

“Amazing!” * 3

Output = “Amazing!Amazing!Amazing!”

Example:

5  *  ‘#'

Output = ‘#####’

पाइथन प्रोग्रामिंग भाषा में Strings का Strings  के साथ Replication नहीं कराया जा सकता है, यह Invalid syntax माना जाता है।

Slicing or Indexing of Strings

String डाटा टाइप alphabets या characters का समूह होता है। पाइथन प्रोग्रामिंग में इस alphabet के sequence में से एक अक्षर या कुछ अक्षरों के समूह को प्राप्त करने के लिए slicing का उपयोग किया जाता है। 

Indexing में किसी भी शब्द के सारे अक्षरों की दो तरह से numbering की जाती हैं। 

  1. पहले प्रकार में पहले अक्षर से आखिरी अक्षर तक 0 से शुरू करके numbering करते है। 
  2. दूसरे प्रकार में आखिरी अक्षर से पहले अक्षर तक -1 से numbering करते हैं।

जैसे – ‘Amazing’

WordAmazing
Index no. type 10123456
Index no. type 2-7-6-5-4-3-2-1

प्रोग्राम में string के नाम के साथ square braces [] में number लिखने पर हमें उस number का अक्षर आउटपुट में प्राप्त हो जाता है।

Example:-

name = ‘Amazing’
name[0] 

Output = ‘A’

name = ‘Amazing'  
name[-3]

Output = ‘I’

इस प्रकार किसी भी string के एक specific alphabet को प्राप्त करने के लिए indexing का उपयोग किया जाता है, इसका कोडिंग कि दुनिया में बहुत अधिक मात्रा में उपयोग किया जाता है।

Complex

Complex numbers,  real part एवं imaginary part का combine form होते है जो इन दोनों के  बीच में ‘+’ आपरेटर का प्रयोग करने से बनते है। imaginary part ऐसा number होता है जो असल में exist नहीं करता है पर हमारे द्वारा उसकी existence को मान लिया जाता है। इस imaginary part में number के साथ ‘i’ (iota) लगा होता है जो imaginary part को दिखाता है। 

प्रोग्रामिंग में ऐसे real एवं imaginary part के combination को complex data type कहा जाता है। पाइथन भाषा में imaginary part  में ‘i’ की जगह ‘j’ का उपयोग किया जाता है। पाइथन भाषा में हम complex डाटा टाइप पर सीधे कोई भी operation कर सकते हैं। 2+1j, 78+3j, 6+4j आदि complex डाटा टाइप के उदाहरण हैं। 

Tokens in Python

Tokens पाइथन भाषा के कोड का भाग होता है। कोड के छोटे-छोटे meaningful parts tokens कहलाते है। Basically सही सिन्टेक्स के हिसाब से जमे हुए tokens का समूह ही कोड कहलाता है। आइए Tokens को और विस्तार से समझने के लिए हम इसके types पर और विस्तार से चर्चा करते हैं।

Types of Tokens

पाइथन भाषा में tokens कुल पांच प्रकार के होते हैं।

  • Keywords
  • Identifiers
  • Literals
  • Operators
  • Punctuators

आइए सबसे पहले हम keywords को समझते हैं।

Keywords

Keywords पाइथन भाषा में कुछ ऐसे words होते हैं जो पहले से ही किसी निश्चित काम को करने के लिए reserve किये हुए है। जब कोड लिखते समय हम इन keywords का उपयोग करते हैं तो यह words अलग-अलग रंग से लिखे होते हैं जिससे यह कोड के बाकी words से अलग दिखाई देते हैं। गौरतलब करने लायक बात यह है कि इन reserve words का use हम किसी class या variable के नाम के लिए नहीं कर सकते है।

False, Finally, is, Return, none, continue, for, lamda, try, True, def, del, and, elif, if, while पाइथन भाषा के कुछ keywords हैं।

Identifiers

Identifiers किसी भी variable, functions या objects को identify करने के लिए unique identity होते हैं जिन्हें उस variable, function या object का नाम भी कहा जाता है। पाइथन भाषा में Keywords कभी भी  Identifiers नहीं हो सकते। Identifiers unique एवं case sensitive होते है।

case sensitive होने से इनका मतलब है कि जिस case (upper/lower case) में हमने variable, function या object का name input कराया है, दूसरी बार उस value का उपयोग करने के लिए उसका नाम हमें  as it is उसी case में लिखना होगा। Identifiers को हम कभी भी किसी digit या special character से शुरू नहीं कर सकते। special characters में  से हम केवल (_) underscore से ही Identifiers की शुरूआत कर सकते हैं।

Literals

Fundamentals of Python में आगे Literals के बारे में जानते हैं, पाइथन भाषा में उपयोग होने वाले सभी numbers जैसे integers, floats एवं complex numbers और सभी alphabet orders (strings) जिनका एक unique Identifier होता है, उन्हें Literals कहते हैं।

यह Literals constants भी होते हैं। 

Operators

ऐसे symbols जिनका उपयोग करके हम किसी निश्चित function को perform कर सकते है उन्हें आपरेटरस् कहते हैं। Generally operators कई प्रकार के होते है। जैसे दो संख्याओं को जोड़ने का कार्य करने वाले symbol (+) को plus operator कहते हैं जो कि Arithmetic operators का एक प्रकार है। 

Operands (जिन पर operation कराया जा रहा है) में किसी भी प्रकार का Operation (काम) कराने के लिए Operators का उपयोग किया जाता हैं। 

पाइथन भाषा में कुल सात तरह के operators होते है-

1 Arithmetic Operators- 
Mathematical operations जैसे जोड़ना, घटाना, गुणा, भाग करने के लिए +, -, ×, ÷ symbols का प्रयोग किया जाता है। इन्हें Arithmetical Operations कहते हैं।

2 Relational Operators-
दो values को आपस में compare करने के लिए या उनके बीच में संबंध स्थापित करने के लिए जिन symbols का उपयोग किया जाता है उन्हें Relational Operators कहते है। ==, !=, <, >, <=, >= आदि relational operators के symbols हैं। इनके आउटपुट conditions के आधार पर true या false होते हैं।

3 Logical Operators-
Logical operators, Boolean values को आपस में and एवं or operators से compare करके आउटपुट में Boolean value देते हैं। 

4 Membership Operators-
Membership Operators ऐसे आपरेटरस् होते है जो किसी value किसी sequence(list, tuple, set or dictionary) में होना या ना होना बताते है। In और not in, दो membership operators हैं जो ये operation perform करते हैं।

Punctuators

पाइथन भाषा में कोड लिखते समय कुछ symbols का उपयोग किया जाता है जो कोड को सुव्यवस्थित करने में सहायता करते हैं। ऐसे symbols को Punctuators कहा जाता है।
ये  “[]”, “()”, “{}”, “,” punctuators के कुछ उदाहरण हैं।
इनका उपयोग instructions and statements को manage करने के लिए किया जाता है। इनके सही उपयोग के लिए, जिससे error ना आए, कोड के सही सिन्टेक्स का ज्ञान होना अति आवश्यक है। 

Fundamentals of python
fundamentals of python

Comments in Python

Fundamentals of Python में आगे comments के बारे में जानते हैं, कोडिंग करते समय यदि आपने कोई कोड लाइन गलत लिख दी है या आपने कोई लाइन लिखी और आप नहीं चाहते कि वह लाइन execute हो तो इसके लिए आप उस लाइन के आगे # लगा सकते है, इससे वह लाइन comment में बदल जाती है और कोड के साथ execute नहीं होती है।

This is code

#this is comment

Python Complete Course (Fundamentals of Python)

Learn Python Programming Masterclass

आपने जाना

इसमें अपने सीखा fundamentals of python के बारे में सीखा और आशा है की अब आप इसे बहुत ही अच्छे से समझ गए होंगे
हमने आपको उदाहरणों के द्वारा आसान भाषा में इसे समझाया है और यदि आपको पूरा पाइथन भाषा का कोर्स करना है तो आप ऊपर दी गई लिंक पर जाकर यह कोर्स ले सकते हैं।
याद रहे की पायथन प्रोग्रामिंग भाषा बहुत ही उपयोगी है और इसे सीखकर आप बेहतर जॉब प्राप्त कर सकते हैं और अपनी skill पर किया गया investment सबसे ज्यादा return देता है।

सीखना बंद।
तो जीतना बंद।

What is python in Hindi- पाइथन क्या है? पाइथन कैसे सीखें?